१- तुलसी के पत्तों का स्वरस दिन में 3 बार आंखों में डालने से रतोंधी में लाभ होता है.
२- केवल शहद लगाते रहने से रतोंधी मिट जाती है.
३- केले के पत्तों का रस नेत्रों में लगाने से रतोंधी मिट जाती है.

Advertisements