POP JOHN PAUL ने मदर टरेसा को संत की उपाधि दी !! आप पूछेंगे किस आधार पर दी ???

आधार ये है की मदर टरेसा ने एक बार किसी महिला के शरीर पर हाथ रखा और उस महिला का गर्भाशय का कैंसर ठीक हो गया तो POP का कहना था की मदर टरेसा मे चमत्कारिक शक्ति है इसलिए वो संत होने के लायक है !

इस पोस्ट को आप इस विडियो में भी देख सकते है..

अब आप ही बताए क्या ये scientific है ??? की उन्होने ने किसी महिला पर हाथ रखा और उसका गर्भाशय का कैंसर ठीक हो गया ? इस लिए मदर टरेसा संत होने के लायक है !

ये 100% superstition है अंध विश्वास है ! लेकिन भारत सरकार ने इसके खिलाफ कुछ नहीं किया ! अब अगर भारत के कोई साधू -संत ऐसा करे तो वो जेल के अंदर ! क्योंकि वो अंध विश्वास फैला रहे है !!

इस पोस्ट को आप इस ऑडियो में भी सुन सकते है..


अब आप ही बताएं मदर टरेसा से बड़ा अंध विश्वास फैलाने वाला कौन होगा ?? अगर उसमे चमत्कारिक शक्ति होती तो उसने pop john paul के ऊपर हाथ क्यों नहीं रखा ??? अजीब बात ये है कि pop john paul को खुद parkinson नाम की बीमारी थी ! और 20 साल से थी ! (इस बीमारी मे व्यकित के हाथ पैर कांपते रहते हैं ! ) तो उस पर हाथ रख मदर टरेसा ने उसको ठीक क्यों नहीं किया ??
मदर टरेसा का एक मात्र उदेश्य सेवा के नाम पर भारत को ईसाई बनाना था !!

DOWNLOAD BUTTON PNG

Advertisements